Happy Navratri 2017 – 9 Durga Indian Festival Full Information Hindi

Happy Navratri 2017 – 9 Durga Indian Festival Full Information Hindi. maan ke 9 Naam Roop aur details. India me Navratri me bahut dhoom machti hai. Yahan har ek festival Logon ke Vishwas aur aashtha se juda rahta hai. Aaj ham Indian Festival Navratri ke bare me Details me Janenge. Ye 9 Din logon ke dil me man me Utsah badh jata hai. Wahi Navratri ke is parv ko Special banata hai. Bharat desh ke har State me ye festival manaya jata hai. Jisase Log khushiyaan manate hain.

Happy Navratri Happy Navratri Happy Navratri Happy Navratri Happy Navratri Happy Navratri Happy Navratri

Yahi Festival India walon ki jaan hai Happy Navratri. Aur isase hi log aapas me jud kar apne khushiyon ko doguna karte hain. Aaj aapko yahan 9 durga ke bare me bataunga. Jise aapko janana hi chahiye. Nauratri ke 9 dino me maan ka har rro pujyniy hota hai.

Happy Navratri 2017- 9 Durga Indian Fastival Full Information Hindi

Happy Navratri 2017 – 9 Durga Indian Fastival Full Information Hindi. Isase hi Poore Duniya me bharat desh ka itna bada naam hai. Is desh ki Cultures hi isaki pahchan hai.

Navratri me poora desh Mata Rani ke aashiorwad se saja rahta hai. Har jagah Utsav hi utsav rahta hai.

Happy Navratri 2017 Story

Happy Navratri 2017 Story, Navratri kyon manaya jata hai. Ramayan ke Ansusaar Tam aur Ravan yuddh se pahle. Bramha ji ne Shree Raam ji ko Chandi Devi ko prashn karne ko kahan. Aur pooja Start karne ke liye aunhone hawan karne ho ko kahan. Hawan ke start karne ke liye unhon 108 Neelkamal ki vyavstha ki. Aur usi samay Ravan ne bhi Devi Maa ko prashnn karne ke liye Devi Path start kar diya. Pavan dev Ji ke karan shree Raam ji ko is baat ka pata chala.

Happy Navratri 2017 wallpaper Image photo letest - 9 Durga Indian Festival Full Information Hindi
Happy Navratri 2017 wallpaper Image photo letest – 9 Durga Indian Festival Full Information Hindi

Ravan Ne apni jadui shaktiyon sahare Sree Raam ji ke Pooja me Vighn dalne ke liye ek Neek- Kamal ka Phool Gayab karwa diya. Jisase Pooja safal na ho sake. Shree Raam ji ko apna sankalp Tootata Najar aaya. Ki kahin Devi Maan unse Krodhit na ho jaye. Tabhi Unhen yaad aaya ki Unko KAMAL NAYAN NAVKANJAN LOCHAN kaha jata hai. Tab Shree Raam ji ke Mnn me Vichar Aaya ki unhe apni ek Aankh Devi Maan ko samarpit kar deni chahiye.

Jaise Hi Shree RAam ji ne apni aankh nikalne ke liye Teer nikala. Durga Man Prakat hue aur Unake Is Vichar se Prashann ho gayi. Tab Mnaan ne unhen Vijay Shree ka aashirwad diya tha. Happy Navratri 2017 – 9 Durga Indian Festival Full Information Hindi.

Happy Navratri 2017 – Durga Maa ka 9 Roop

दुर्गा माँ का नोऊ नाम बहुत शक्तिशाली है | Happy Navratri नवरात्री का नौ दिन बहुत ही अच्छा मन जाता है | देवी मान के रूपों से नौरात्रि का नौ दिन सजा हुआ है | हर रूप और हर नाम में दैवीय शक्ति को पहचानना की नवरात्री मानना है | Happy Navratri 2017 – 9 Durga Indian Festival Full Information Hindi.

Happy Navratri- शैलपुत्री

शैल का मतलब होता है शिखर | शिखर का मतलब तो आप समझ ही गए होगे | शैलपुत्री नाम के पीछे एक कहानी है |माँ दुर्गा की पहली स्वरुप शैल राज हिमालय की पुत्री शैलपुत्री के साथ ही दुर्गा पूजा स्टार्ट होती है |

Happy Navratri- ब्रम्भ्चारिणी

दूसरा स्वरुप मान दुर्गा का ब्रम्ह्चारिणी का है | माँ ब्रम्हचारिणी ग्यान का भण्डार है | रुद्राक्ष उनका बहुत सुन्दर गहना है | माँ ब्रम्ह्चारिणी की आराधना से लोगों को विजय की प्राप्ति होती है | ब्रम्ह का अर्थ होता है तप | उनकें दहिओने हाथ में गुलाब और बाएं हाथ में कमंडल रहता है |

पारवती माँ हिमवान किबेती थी | उन्होंने भगवन शिव जी को पाने के लिए कठोर तपस्या की थी | इसलिए उनको ब्रम्हचारिणी कहा जाता है | यह दुर्गा माँ जी का शांति रूप है |

Happy Navratri- चंद्रघंटा

यह माता जी का तीसरा रूप है | नवरात्री के तीसरे दिन माता चंद्रघंटा की पूजा – अर्चना की जाती है |  चंद्रघंटा का अर्थ होता है, जिनके सर पर आधा चन्द्र और घंटी बजती रहती है | इस रूप में माता शेर में स्वर रहती है | इस रूप में माता जी के तीन आँख और दस हाथों में दस हथीयार रहते हैं | उनके शारीर का रंग सोने के रंग का होता है | माँ चंद्रघंटा की पूजा बहुत फल दायक होती है | उनके घंटे की ध्वनि रक्षों को भयभीत कर देती है | असुर उनसे कांपते हैं |

Happy Navratri- कुष्मांडा

यह माता जी का चौथा रूप है | नवरात्री के चौथे दिन माँ कुष्मांडा जी की पूजा की जाती है |  ब्रम्हांड की व्युत्पत्ति करने के कारण इनको कुष्मांडा नाम से पुकारा जाता है | कुष्मांडा माँ के आठ हाथ होते हैं, और उनमे आठ हथियार रहते हैं | वो शेर की सवारी करती हैं | सूर्य लोक में निवास करने की शक्ति सिर्फ इनमे है | कोई भी देवी देवता इनकी तेज की समता नहीं रख पाते हैं | ये माँ का खुशियों भरा रूप है | इन्हें अष्ट भुजी देवी माँ भी कहते हैं |

Happy Navratri- स्कंदमाता

ये माँ स्कंदमाता का पांचवा रूप है | नवरात्री के पांचवे दिन स्कंदमाता जी की पूजा होती है | इनके पुत्र का नाम स्कन्द है | इनके गोद में भगवन स्कन्द जो देवताओं के सेना प्रमुख हैं, बैठे रहते हैं | इनकी तीन आँख और चार हाथ रहती है | जिनमे कमल के स्वेत फूल रहते हैं | माँ स्कंदमाता कमल पे विराज मान रहती हैं | मान का रंग स्वेट होता है |

Happy Navratri- कात्यायनी

ये मान का छातान्वा रूप होता है | नवरात्री के छ्हतावें दिन माँ कात्यायनी जी की पूजा होती है | बहुत समय पहले एक ऋषि थे जिनका नाम कटा था | उनकी कठोर तपस्या के कारण उनहोंने उनकी यहाँ पुत्री रूप में जन्म लेने का आशीर्वाद दिया था | मान्यता है की श्री कृष्ण जी की पत्नी ने उन्हें पाने के लिए माँ कात्यायनी जी की पूजा अर्चना की थी |

Happy Navratri-कालरात्रि

माँ दुर्गा जी का संतवा रूप है कालरात्रि का | नवरात्री के सातवें दिन मान कालरात्रि जी की पूजा की जाती है | उनका स्वरुप कलि रात की तरह होता है | जैसा की उनके नाम से पता चलता है | उनके केश बिखरे हुए होते है, और वह चमकीले वाष्ट्र पहने हुए रहती हैं | यह रूप पापियों के अन्दर भय उत्पन्न कर देता है, जो उनका नाश करती है | माँ जब सां लेती हैं जो असंख्य आग की लपटें निकलती हैं | माँ कलि अपने भक्तों को शुभ फल देती हैं|

Happy Navratri- महागौरी

माँ गौरी माँ यह माँ का आठवां रूप होता है | नवरात्री के आठवें दिन इनकी पूजा की जाती है | मान अपने भक्तों के सारे पानपों को जला देती है | पुरानों के अनुसार मागौरी ने अपने पूर्व जन्म में माँ ने भगवन शिव जी को पाने के लिए कठोर तपस्या की थी जिसकी वजह से उनके शारीर का रंग कला हो गया था | भगवन शिव ने माँ गौरी को गंगा जल में धोया जिसके कारण उनका शारीर गौर रंग का हो गया | इसलिए उनको माँ गैउरी कहा जाता है | ये हा के शांति और पवित्र रूप का प्रतिक हैं | उनकी तीन आँख और छार हाथ हैं और उनकी सवारी बैल है |

Happy Navratri- सिद्धिदात्री

ये माँ का नौवां रूप है | नवरात्री के नौवें दिन इनकी पूजा वंदना की जाती है  | उनके पास बहुत साडी शक्तियां हैं | पुरानों में कहा जाता है की भगवन शिव जी ने जब आदिस्झाक्ति की पूजा की तब माता जी की कृतज्ञता के कारण उनका आधा शारीर नारी रूप में बदल गया | और वह अर्धनारीश्वर के नाम से प्रसिद्द हो गए | इनके चार हाथ हैं और इनका स्वरोप बहुत प्रसंनित होता है | इनकी सवारी शेर होती है |

Also, Recommend and Happy Navratri More

  1. SHREE GANESHAY NAMAH- SHIDDHIVINAYAK NAMO NAMAH
  2. AMAZING FACT ABOUT INDIA – Ek nayi sonch Article Hindi
  3. Best Birthday Plan: BRING HAPPINESS TO YOUR LIFE
  4. Indian Cultures Festival Emotion And Information
  5. Google Products and Service Hindi Information and Details

Happy Navratri 2017 – 9 Durga Indian Festival Full Information Hindi

Share ItShare on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn0Pin on Pinterest0Share on Tumblr1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *